Night & Pen Poetry

In Search of Orion …

कभी कभी छत की ऊपरी मंजिल पर जाता हूँ, नितांत रात में निहारने आकाश को, इस भागदौड़ में भूल जाता हूँ प्रकृति के इस अजूबे को बचपन से जो नहीं बदला अब तक मैं ढूंढ लेता हूँ डमरू जैसे ओरियन को । जब मास्टर जी ने बताया था तुम्हारे बारे में, बचपन में उस दिन […]

New Year New Me 2018

नया वर्ष है नया सवेरा ..

winter poem

धुंध में अजनबी

vartalaap hindi poem

वार्तालाप ….

Life Obstacles Poem

जीवन संघर्ष से कैसा डर …

Random Thoughts Thoughts

संजय उवाच – भारत बंद !

धृतराष्ट्र संजय से – क्या हो रहा हस्तिनापुर में ; महाराज बुलेट ट्रेन की चाह रखने वाले ; पटरी उखाड़ ले गए । आज भारतवर्ष बंद था तो महाभारत का डेमो सड़क पर प्रदर्शित किया गया , लोकतंत्र की रक्षा के लिए गाड़ी जलाए गए, संविधान बनाने वाले के नाम का नारा लगाके खूब संविधान […]

My Voice Thoughts

लोकतंत्र के जंगल – Random Thought

लोकतंत्र के जंगल मे शेर की खाल पहन भेड़ियों का शासन है… यहाँ हर तरफ अराजकता ही अराजकता है मजदूर, छात्र, किसान, नौकरीपेशा, उद्यमी सब 70 साल से मूर्खों की मंडली की ओर आस टिकाये कब तक इस राजनैतिक दासता में रहेंगें, सड़क के गड्ढे से ले बैंक का ब्याज, आपके बच्चे के पेपर से […]

Night & Pen Poetry

In Search of Orion …

कभी कभी छत की ऊपरी मंजिल पर जाता हूँ, नितांत रात में निहारने आकाश को, इस भागदौड़ में भूल जाता हूँ प्रकृति के इस अजूबे को बचपन से जो नहीं बदला अब तक मैं ढूंढ लेता हूँ डमरू जैसे ओरियन को । जब मास्टर जी ने बताया था तुम्हारे बारे में, बचपन में उस दिन […]

Life Events Photography

Sillhoutes Of Life …..

जीवन के श्वेत श्याम पट्ट पर, कुछ तस्वीर आ उभरे है ; गोद में कोई कौतुहल से, अटखेलियाँ करता ; देखता दीवारों पर बनती परछाइयों को, हिलती डुलती आभायें , जब साथ साथ आती है, अनेकों रंग भर देती जीवन में । #SK #Sillhoute Of Life…

New Year New Me 2018

नया वर्ष है नया सवेरा ..

Rafi

Rafi – Tribute to Musical Legend

Dad Diary

Dad’s Diary – 1

Newton movie review hindi

सब न्यूटन है यहाँ ; नहीं है तो बनिए न्यूटन ( Newton Movie Review )

Subscribe Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Archives

Browse Books Online