Visit to Home Town – (Photography)

Journey Begin ….

1011773_928829043813399_1557065829460682696_n

चकरी … बैलून … 10 रूपये का मेला ।
वक़्त की रफ्तार बहुत तेज है । जिन्दगी भी तेज चली हो जैसे ….#memoirs

 

1393676_924975570865413_4241372718092257137_n

सुप्रभात ….

एक नयी सुबह ।। अपना शहर !!

1977354_927064207323216_8938499952200535752_n

गाँव से दुर्गा विसर्जन का एक दृश्य ।

सभी अलग अलग टोले से माँ के कलश को निकाल कर एक जगह एकत्रित होते । यह सामाजिक एकता को भी जीवंत करती । एक जगह सभी जाति समुदाय के लोग आपसी सदभाव के साथ विसर्जन में शामिल होते । ये रंग बिरंगे छाते माँ के कलश के ऊपर उनको छाया देने के लिए रहते की उनको प्रस्थान तक धुप भरे रस्ते में छांव मिले । ये भी सेवा भाव है भगवती के लिए । 

#दुर्गा_पूजा #गाँव_से

10177400_927431327286504_1011448915302740790_n

Morning view from window .. A tree with green leafs !

 

10177856_927431793953124_2344495682038272734_n

मिर्च का पेड़ ।। #गाँव_से

 

10352192_927431423953161_6908159190392500053_n

Ceiling light decoration at home #bhagalpur #sk #htc#red

 

10402710_925326590830311_4808203223260712892_n

आज बाजार में सब नया कपड़ा लत्ता ले रहे । कल जागरण के पूजा के बाद सब अगले दिन नया कपड़ा पहन मेला जाते ।। ऐसे भी ये प्रथा महत्वपूर्ण है नये परिधान और साज श्रींगार की चीजे औरत और बच्चे कभी कभार बाजार जाके लेते ।मॉल की तरह मुड शौपिंग नही होता था । खासकर किसान फसल बेच जमा पूँजी से परिवार के हर सदस्य के लिए कपड़े और सब जरुरत की चीज लेते । जागरण के बाद सफ़ेद चावल को पीस कर भगवती को चढ़ाया जाता और अगले दिन उसी से खरीदे हुए हर कपड़े पर छिड़क देते तब उस वस्त्र को आप पहन सकते ।। #गाँव_से

 

10409530_927068230656147_2660123397235395667_n

अरहर के खेत ।

#गाँव_से

 

10523729_927431597286477_3363965409943618810_n

हीरा और मोती । ( मोती फ्रेम से बाहर हो गया है )

#गाँव_से

 

10599570_927431163953187_4087736349992529340_n

खेत खलिहान .. , छोटे पठार । मिलो फैली कृषि भूमि ।। #bihar

 

10632697_927431267286510_4622118171611403583_n

Home Ceiling Colourful lights !!

 

10653394_927430253953278_3575037493054838382_n

मालगाड़ी . . luggage train staying at station .. #train

10672372_924585477571089_5388769626606698634_n

Rainy Day – Sky outside my roof @ Bhagalpur

10676324_927431717286465_123835688339529816_n

चौक .. गाँव से नजदीक का सड़क जहाँ से आवागमन के लिए लोग परिवहन साधनों का इन्तेजार करते ।। #bihar #bihpur#bhagalpur

10686695_927431530619817_4976609087388890448_n (1)

गाँव में घोडा गाड़ी को टम-टम कहते है ।

थका हुआ घोड़ा आज काम पर नहीं गया है ।

#गाँव_से

Photo Taken By Sujit @ Bhagalpur, Bihar (Also Some Pics of Home Village Sonbarsha Bihpur)

1 thought on “Visit to Home Town – (Photography)”

Comments are closed.