तेरा चेहरा अब …

your face hindi poem

हृदय का एक कोना, तुम्हारा एक हिस्सा था वहाँ, तेरा चेहरा और कई तस्वीरें, भरने लगा है वो, उलझनों से अब, जद्दोजहत तो होती है, अकेले उन्हें हटाने की, शायद Read More …