जिंदगी और किताब – Night & Pen

Night & Pen by Sujit

ऐसे ही बात शुरू हुई जिंदगी और किताब की … सब कुछ कहीं न कहीं सोचा गया होगा, या कोई किताब होगी जिन्दगी की किताब जिसमें लिखा होगा कौन किसके जिन्दगी Read More …

#SK – Two Liners – II

Two_Liners From Sujit

लघु कविता क्षणिकाएँ है जो अनायास ही मष्तिष्क में आती लेकिन इनका जुड़ाव स्तिथि से, यादों से जरूर होता ! Yet Another Part of Two liners Hindi Poetry … #Sujit Read More …

#SK – Two Liners – I

Two_Liners From Sujit

अब कोई नज़्म नहीं लिखूँगा तुमपर देखों ये तुमने क्या कर दिया तुम्हारी नज़्म सा ही हो गया हूँ !! ‪#‎Randomthoughts‬ वहम था उन चेहरों का हँसना, यकीन यूँ ही Read More …

तुम आते तो रंग चढ़ता थोड़ा ……

hindi poem on holi color

कुछ सादा फीका फाल्गुन था, तुम आते तो रंग चढ़ता थोड़ा, कुछ नीला पीला गालों पर, बालों से कुछ रंग झरता तेरा ! ऐसे तो हरपल यादों में रंगता, साथ Read More …