Category Archives: Photography

Photography By Sujit Kumar
Camera : Nikon P510
Location : Bhagalpur, Bihar (Near Bank of River Ganga)

Make in India Painting in Manjusha Art by Sujit

Manjusha Art – My New Initiative as a Folk Artist

जीवन में एक अवसर मिला अपने राज्य और क्षेत्र के सांस्कृतिक धरोहर को समझने का और उसके लिए कार्य करने का ; एक छोटा सा प्रयास कर रहा हूँ अपने आस पास के कुछ महिलाओं को इस कला से जोड़ने की ; इस कला से जुडी कुछ बातें !

मंजूषा कला के बारें में ~

मंजूषा कला अंग प्रदेश की सांस्कृतिक धरोहर है ! मंजूषा चित्र कला अंग क्षेत्र के लोकपर्व बिहुला-विषहरी पर आधारित है, ये एक पारम्परिक लोककला है जो पौराणिक समय से चली आ रही ! सिंधु घाटी सभ्यता के समय इस लोककला के विकसित होने के प्रमाण है ! मंजूषा कला को विश्व की प्रथम कथा आधारित चित्र कला माना जाता है ; मंजूषा कला में तीन रंगों का प्रयोग होता है ये है हरा गुलाबी और पीला ! इसे अंगिका चित्रकला भी कहते है जो आधुनिक समय में भागलपुर क्षेत्र के रूप में विख्यात है ! मंजूषा कला में बॉर्डर धार्मिक चिन्हों और x रूपी आकृति में पात्रों को दर्शाया जाता है ! साँप भी प्रमुखता से इस कला में उपयोग होता है !

मंजूषा कला से जुडी लोकगाथा –

कहते है की भगवान शिव एक बार चंपानगर के तालाब में स्नान करने आतें है और उसी समय उनके पाँच बाल टूटकर कमल पर गिरते जो पाँच कन्याओं का रूप ले लेती और ये कन्याएँ शिव जी की मानस पुत्री कहलायी ! इन पाँच कन्याओं को मनसा कहते है ; इन्होंने शिव जी से विनती की इन्हें संसार पूजे तो भगवान शिव ने कहा अगर चंपानगर का सौदागर चंदू जो मेरा भक्त है अगर वो तुम्हें पूजे तो संसार भी पूजने लगेगा ! मनसा चंदू सौदागर पर दवाब बनाती की वो उसे पूजे ; लेकिन ऐसा होता नहीं ! मनसा देवी को सर्प और मायावी शक्तियाँ थी ! मनसा देवी कुपित हो चंदू सौदागर को दंड देती उसके सारे पुत्रों को डश लेती और सभी पुत्रों की मृत्यु हो जाती ! फिर चंदू सौदागर को शिव जी वरदान से एक पुत्र मिलता जिसका नाम बाला था ; उसका विवाह बिहुला से होता ! शादी के पहले रात ही ; मनसा बाला को नाग से डसवा देती और उसकी भी मृत्यु हो जाती ! बिहुला को अपने पतिव्रता धर्म पर पूरा भरोषा होता और वो एक नाव में मंजूषा (एक साज सज्जा से भरी आकृति ) में अपने पति को ले नदी मार्ग से चल देती ; काफी बाधाओं से लड़ वो भगवान से अपने पति का जीवन वापस पाती ; और अंत में अपने ससुर चंदू सौदागर को भी मना लेती की वो मनसा की पूजा करें !

मंजूषा कला इसी गाथा का चित्र रूपांतरण है !

मंजूषा कला को संजोने के अनेकों कार्य हो रहे ; सरकार का प्रयास उदासीन ही अभी तक रहा है ; कलाकारों बिना उचित पारिश्रमिक के इस कला से नहीं जुड़े रह सकते, कला के व्यवसायिक उपयोग के संभावनाओं की तलाश करनी होगी ! इस कला के इंटरनेट प्रचार प्रसार में कुछ प्रयास कर रहा हूँ ! वेबसाइट और मोबाइल एप्प के माद्यम से इस कला को लोगों तक पहुँचाने का प्रारम्भिक प्रयास है मेरा ~

वेबसाइट – www.manjushakala.in
मंजूषा कथा चित्र  – 
http://manjushakala.in/manjusha-katha/
एंड्राइड एप्प – Manjusha Art on Google Play
फेसबुक – Manjusha Art on Facebook
यूट्यूब – View Videos of Manjusha Art on YouTube

कुछ मेरे द्वारा बनाई गयी मंजूषा चित्र – #Sujit 

Make in India Painting in Manjusha Art by Sujit

Make in India Painting in Manjusha Art by Sujit

Painting of God Sun in Manjusha Art by Sujit

Painting of God Sun in Manjusha Art

Champa Flower Painting in Manjusha Art

Champa Flower Painting in Manjusha Art

Shiv Ling Painting in Manjusha Art by Sujit

Shiv Ling Painting in Manjusha Art

Painting in Manjusha Art

Painting of Manjusha Art

Manjusha / Angika Art Painting

Manjusha / Angika Art Painting

– Sujit

Visit to Home Town – (Photography)

Journey Begin ….

1011773_928829043813399_1557065829460682696_n

चकरी … बैलून … 10 रूपये का मेला ।
वक़्त की रफ्तार बहुत तेज है । जिन्दगी भी तेज चली हो जैसे ….#memoirs

 

1393676_924975570865413_4241372718092257137_n

सुप्रभात ….

एक नयी सुबह ।। अपना शहर !!

1977354_927064207323216_8938499952200535752_n

गाँव से दुर्गा विसर्जन का एक दृश्य ।

सभी अलग अलग टोले से माँ के कलश को निकाल कर एक जगह एकत्रित होते । यह सामाजिक एकता को भी जीवंत करती । एक जगह सभी जाति समुदाय के लोग आपसी सदभाव के साथ विसर्जन में शामिल होते । ये रंग बिरंगे छाते माँ के कलश के ऊपर उनको छाया देने के लिए रहते की उनको प्रस्थान तक धुप भरे रस्ते में छांव मिले । ये भी सेवा भाव है भगवती के लिए । 

#दुर्गा_पूजा #गाँव_से

10177400_927431327286504_1011448915302740790_n

Morning view from window .. A tree with green leafs !

 

10177856_927431793953124_2344495682038272734_n

मिर्च का पेड़ ।। #गाँव_से

 

10352192_927431423953161_6908159190392500053_n

Ceiling light decoration at home #bhagalpur #sk #htc#red

 

10402710_925326590830311_4808203223260712892_n

आज बाजार में सब नया कपड़ा लत्ता ले रहे । कल जागरण के पूजा के बाद सब अगले दिन नया कपड़ा पहन मेला जाते ।। ऐसे भी ये प्रथा महत्वपूर्ण है नये परिधान और साज श्रींगार की चीजे औरत और बच्चे कभी कभार बाजार जाके लेते ।मॉल की तरह मुड शौपिंग नही होता था । खासकर किसान फसल बेच जमा पूँजी से परिवार के हर सदस्य के लिए कपड़े और सब जरुरत की चीज लेते । जागरण के बाद सफ़ेद चावल को पीस कर भगवती को चढ़ाया जाता और अगले दिन उसी से खरीदे हुए हर कपड़े पर छिड़क देते तब उस वस्त्र को आप पहन सकते ।। #गाँव_से

 

10409530_927068230656147_2660123397235395667_n

अरहर के खेत ।

#गाँव_से

 

10523729_927431597286477_3363965409943618810_n

हीरा और मोती । ( मोती फ्रेम से बाहर हो गया है )

#गाँव_से

 

10599570_927431163953187_4087736349992529340_n

खेत खलिहान .. , छोटे पठार । मिलो फैली कृषि भूमि ।। #bihar

 

10632697_927431267286510_4622118171611403583_n

Home Ceiling Colourful lights !!

 

10653394_927430253953278_3575037493054838382_n

मालगाड़ी . . luggage train staying at station .. #train

10672372_924585477571089_5388769626606698634_n

Rainy Day – Sky outside my roof @ Bhagalpur

10676324_927431717286465_123835688339529816_n

चौक .. गाँव से नजदीक का सड़क जहाँ से आवागमन के लिए लोग परिवहन साधनों का इन्तेजार करते ।। #bihar #bihpur#bhagalpur

10686695_927431530619817_4976609087388890448_n (1)

गाँव में घोडा गाड़ी को टम-टम कहते है ।

थका हुआ घोड़ा आज काम पर नहीं गया है ।

#गाँव_से

Photo Taken By Sujit @ Bhagalpur, Bihar (Also Some Pics of Home Village Sonbarsha Bihpur)

@ 1 PM – Garden of Joy !! (Photography)

गिलहरी ..

चुपके से पैरों के आसपास आके ;
कौतुहल सी करती ।।
छोटे छोटे हाथों में मूँगफली को भरती;
थोड़ी आहट पर डरती हुई ;
फिर चुपके से फिर पास आने सी लगती ;
कभी कभी दिख जाती एक छोटी सी गिलहरी ।।

#instashot #htc #sk

squirrel

Life is full of choices … #workplace #wall #motivation

workplace quote

फूलों के रंग से दिल की कलम से तुझको लिखी रोज पाती ..
आंधी ने रोका पानी ने टोका दुनिया ने हँसकर पुकारा °●π
Pic : #sk
#flowers #htc #nature

sunflower

देखो मैंने देखा है एक सपना ।। फूलों के शहर में हो घर अपना ।। #htc#click

flower love

When i sharing this beauty of nature; thoughts comes in mind .. my eye witnessed lots of these fancy stuffs in past .. a silent road .. green field of my village.. play ground of my city .. some memories faded .. i missed to capture them .. now smartphone in hand . Technology empowers us to hold the moment .. now i can clicked them .. store them .. thanks to technology … #htc #pic… SK !!

 

nature photography

Old vintage tree .. and green leafs … Like life revitalizing again !!
Photo by #sk

 

old vintage tree

Few weeks ago .. at #saket #delhi सोचे पान खाया जाये ।

PAAN in India

जो मुरझाई फिर कहाँ खिली …
पर बोलो सूखे फूलों पर,
कब मधुवन शोर मचाता है !!

Pic: #sk #htc

flower beauty

धुंध ऐसी नजरों से राह ओझल हो जाये ;
अपनी वजह को लेके फिर भी निकल जा राही ।।

#morning #winter

winter morning Delhi

Photo Taken By : Sujit Kumar

Coin - Childhood

Coins – Random Click !

Coin - Childhood

कोई गुल्लक नहीं ;

बिखेर देना सिक्के ;

ऐसे किसी जगह ;

किसी खिलौने के ख्वाबों के खातिर ;

तोड़ देना मिट्टी के लाल गुल्लक को ;

बचपन में ।

कोई मेहमान हाथ में रख देता था एक रूपये का सिक्का ; और दौड़ के गुल्लक में डाल के ; हाथों में उठा महसूस करता था ,

कितना भारी हुआ है । फिर एक बार हिला के खनखनाहट सुन खुश हो जाता था बचपन । अब सिक्के यूँ ही बिखरें है जैसे किसी सपनों की कीमत ये ना अदा कर पायेंगे ।। #sk

My Photography Collection – City Life (2014)

Delhi tourism “dilli ke pakwan” festival … Entrance roof decorated with colorful umbrellas ….
‪#‎Delhi‬ ‪#‎photography‬ wonderful ‪#‎nightwalk‬ with Dinesh Sharma & Nishant Yadav … !! Awsm taste of कश्मीरी कहवा बादाम चाय 🙂

Delhi Food festival

सर्द सुबह की दस्तक …. [ #Delhi #instaclick ]

City Morning

थोड़ी थोड़ी .. धुंध उतर आयी ।।
अब इस शहर की सुबह भी संवर आयी ।।
#morning #Delhi #click#autumn

winter city morning

भारतीय कला से परिपूर्ण .. घर साज सज्जा की एक दुकान । ।
स्वदेशी वस्तु को बढ़ावा देने से शायद इन कलाकारों को प्रोत्साहन मिले ।।

#India #Art #Delhi #Photography #sk

Indian ethnic art
Captured the city moments .. with my #htc .. #Delhi#night #photography

city moment india

#SK work desk …. Never-ending to do list

sujit work desk
Indian Ethnic Art .. China Clay Flower Stand !! #Delhi#Hauzrani #click #htc #sk

China Clay market india

शीत की रातों में भीगे भीगे लैंप पोस्ट ।

सुनसान सब बेसुध सुबह की आस में ।

#Anvt railway station @4 a.m

lamp post night
Dilli Ke Pakwaan Festival – Food & Drink in Baba Kharak Sing Marg(Connaught Place) Delhi/NCR.

Delhi foods
Rainy night click by sk … The clouds .. They pour their love 2 earth.. now they even not exist in sky
the small droplets witnessed the love on roses & green leafs.. some drops on street.. look the vehicles they weared the vintage looks .. its awesome rainy night … : sujit
#delhi #night #rain #htc

rainy city nights
Winter Night … vegetable stalls in street of Delhi !! Random click : #sk
#photography

winter city market
Winter Night … vegetable stalls in street of Delhi !! Random click : #sk
#photography

evening vegetable market delhi

इस रात को भी गुमां है नीली रौशनी के शहर में रहने का ! – Delhi Night Clicks with MY HTC

City light

Photo Taken By : Sujit Kumar 

जब शब्द खामोश हो – तस्वीरें बोलती : My Paintbrush & Art Collection

जब शब्दें खामोश हो जाती, तब तस्वीरें बोलती, इनमे छुपा होता एक मर्म,
एक वक्त .. एक याद .. एक पुकार … एक खामोशी .. एक कला .. एक आत्मा !!

Sometime I hold paintbrush off course on digital canvas; here I collected my some paintbrush and painting collection. Every art of mine holds the conscience of some thoughts. Try to break the enigma behind every picture ….

sk

Just A Thoughtful Man Always Stuck Between Own Belief 

Saturday-Art
  Paintbrush Art – Childish Approach to show the modern life and humor of life !!!

paint
Urban Life – Everyone Right to live own life !! Unequal Society & Living Shown In This Paintbrush Art 


993304_653680941328212_952442497_n

Passion, Proud Motivation Art – Inspired with Movie Bhaag Milkha Bhaag !! 

644435_606983569331283_1047375803_n
  Life Learn To Serve Others

301261_505477686148539_1690324323_n
Just Thoughts & Design 

320469_266619570034353_2554932_n
  Random Mood !! 
404693_527891713907136_1117955069_n
Stone Heart Some Time – A Man Heart !!

546377_406129639416678_2023005542_n
Artificial Scientific Life & Night !!

582608_566242406738733_1995567218_n
  Some Love Lust Art !!

1238375_686453428050963_1386447195_n
Weird Mood – Complex Days Painting !!

1270_647462665283373_1715014022_n
  I am more than what you see !!

14563_555048914524749_545456776_n
Just Creativity – Creation Lies just between dreams and daily work !! 

215137_251813938181583_6758013_n
  Colorful Life Art by Sujit 

228499_503135569716084_2003604763_n
Defeat – Frustration Art !! 

purple_dragon_fire_light____jpg_Wallpaper_3cckz
  Dragon Art shows Passion !! 

sept-panting
  Feel Night Art –  Love, Drink & Much More Thoughts !!

sk-fb-new-13
Forest of Thoughts – Artificial Forest Art !!  

sujit-drawing
  Just Childhood Art expressed by Paintbrush !!

1185025_677531382276501_1532622713_n
Happy Independence Day Art – A tribute to soldiers !!

painting-my
 Stir with Vigorous & Uncluttered – : Paintbrush !!

painting
  Imagination and Childhood Dreams !!

Live-life-with-a-little-spi
Live Life with little spice – Life Art !!

feb-2012-painting
Scary Art – Night Art – Night Peach – Night Thought !!

cvr

Leaf Art – Complex Art of Life !!

boston-tea-party-painting
Boston Tea Party – History Art Via Paintbrush  

All art & painting created by me – Feel free to use and share in any work !! – Sujit

एक दिन गुलाबी शहर जयपुर में – MY Jaipur Visit

शांति सादगी का प्रतीक ! ! गुलाबी शहर जयपुर

दोस्तों के संग एक खुशनुमा सुबह और उनमे खो गयी गुलाबी शहर की यादें !

प्राचीन धरोहर को संजोती ये धरती ! मैं एक दिन गुलाबी शहर जयपुर में !


– : सुजीत कुमार लक्की