ये डायरी !!

हर रात.. सिरहाने में पड़े पड़े सोता, कितने सालों का किस्सा है ये डायरी ! उसके कोने में ताजगी सी नहीं है, कोनों से मुड गये है पुराने होकर ! …

Read More