Poetry

अधुरा अलविदा ….

अलविदा अधुरा ना होता वो, जो तेरे जिक्र में मैं ना नजर आता । फिर ना फिक्र उमड़ती मुझमें, जो तु अधुरा ना नजर आता । बेफिक्र ही गुजर जाता दूर मैं, जो रास्तों में तू ना नजर आता । मुस्कुरा कर रह लेता अपने गमों में, जो तेरे आँखों में कोई गम ना नजर […]

Poetry

इस तरह जिन्दगी से कुछ पल उधार लेता हूँ !

रात के सुकूं के दो पल इस तरह संवार देता हूँ , सारे थके थके रिश्तों को उतार देता हूँ, भूल जाता हूँ कुछ पल के लिए गम सारे, इस तरह जिन्दगी से कुछ पल उधार लेता हूँ ! ना ही दम्भ भरता किसी कीमत का, ना ही गम करता रूठी किस्मत का, मुस्करा कर […]

Random Thoughts Thoughts

लालटेन युग – अंधकार से प्रकाश का एक सफर !

आज वंडरलैंड से बातें नहीं; आज कुछ अतीत के पन्नों में चलते है ! एक दशक पूर्व .. नब्बे का दशक ; कोई टाइम मशीन नहीं शब्दों के माध्यम से चलते है लालटेन युग की ओर ! हम उस विकासशील दशक के वाहक है जिन्होंने लालटेन युग से निकलकर डिजिटल युग में प्रवेश किया है […]

Poetry

आज  फिर सदियों  के बाद वही पुरानी आहट सी  थी !

आज फिर सदियों के बाद वही पुरानी आहट सी थी, जो भुला नहीं हूँ अब भी जेहन में बची एक हसरत सी थी । कुछ दो शब्दों पर तर हो गयी आँखे , सो गयी कब नींद में बोझिल ये आँखे । किसी अजनबी के तरह तुम तो लौटे नहीं थे, लौट के उन राहों […]

Random Thoughts Thoughts

Love in Inbox – #इनबॉक्स_लव – 2

#इनबॉक्स_लव ऐसे मैं कहीं नहीं हूँ कोई अपरिभाषित बंधन है, जो मेरे क्षणिक मौजूदगी को बयाँ करता, पर अब दृढ़ हूँ .. हठ भी अलग राहों पर जाने का ! #इनबॉक्स_लव किसी पुराने ख़त को बार बार, अलग अलग वक़्त के लम्हों में, अलग अलग मायने में पढ़ता, पुराने ख़त मैं हरबार नयी ही बात […]