My Voice Thoughts

चुनाव सन माइनस २०१४ …

बहुत ही अदभुत मेला लगा है इस रियासत में.. इक राहगीर ने चलते हुए पूछा क्या कोई उत्सव है; भाई पुरे पाँच साल के बाद ये आया है, कहने वाले कहते महाकुंभ भी कुछ नहीं इसके सामने .. इक बार जो जीत जाते फिर पाप पुण्य का भेद खत्म उसके लिये, वो मोक्ष से भी […]

Poetry

ये मौन रिश्ता ….

ये मौन रिश्ता ..कैसा ? जो अब कभी बयाँ ना होगा, जो सुना नहीं जा सकता.. या मौन जिसके शोर में, बहुत कुछ स्तब्ध सा हो गया ! एक मौन अनुमति इन शब्दों को भी है, खो जाये कहीं, चले जाये कहीं; जहाँ इन्हें पनाह मिल जाये ! एक मौन सहमति मान चुका, यतार्थ है […]

Random Thoughts Thoughts

जिंदगी ऑनलाइन ……

टीवी पर कोई कार्यक्रम ना भी देख पाये कोई बात नहीं .. पर ऑनलाइन नोटीफिकेशन ना मिस हो .. ये ट्विट्रर फेसबुक की दुनिया ! कितना भी कह ले आभाषि छद्म पर इन तस्वीरों से बने सजे प्रोफाइलों के पीछे कोई शख्स होगा ही जो सोचता, बोलता, लिखता, रोता .. हँसता .. कुछ उसके ख्वाब […]

Thoughts Work & Life

मायूसी को हँसी बनाएँ – Let’s Live Our Life Each Day With A Smile

खुशी की क्या परिभाषा .. और हर हमेशा घिरे महसूस करते जिससे यही है गम ? याद है .. कब पढ़ी थी पिछले दफा किताब की दस पंक्तियाँ सुकून के साये में ! कितने उलझते जा रहे है इस आपा धापी में .. कितना ? ये भी तो सोचने का वक्त नहीं ! मायूसी को […]

Videos & Cinema

कब आते हो कब जाते – Gulzar Video Poetry

कब आते हो ..कब जाते हो ना आमद की आहट .. ना जाने की टोह मिलती है ! कब आते हो ..कब जाते हो ! ईमली का ये पेड़ हवा में जब हिलता है तो, ईटों की दीवारों पर परछाई का छीटा परता है, और जज्ब हो जातें जैसे ! सूखी मट्टी पर कोई पानी […]

Poetry

प्यार के पौधे … Love Tree ~ Valentine Words

मैं अब नहीं देख पाता तेरी चहलकदमी, क्योँ नहीं चहचाहट भी सुनाई परती, आँगन मैं अब भी होती होगी आहटे तेरी ! सुबह पंछी आते होंगे तेरे खिड़कियों पर, वो जानते है तेरा प्यार और तेरी सादगी, जानते हो ये सारे पौधे गमलों में पड़े, जिन्हें तुम सींचते ये पाते है जिंदगी तुमसे, ये बस […]