चुनाव सन माइनस २०१४ …

बहुत ही अदभुत मेला लगा है इस रियासत में.. इक राहगीर ने चलते हुए पूछा क्या कोई उत्सव है; भाई पुरे पाँच साल के बाद ये आया है, कहने वाले Read More …

जिंदगी ऑनलाइन ……

टीवी पर कोई कार्यक्रम ना भी देख पाये कोई बात नहीं .. पर ऑनलाइन नोटीफिकेशन ना मिस हो .. ये ट्विट्रर फेसबुक की दुनिया ! कितना भी कह ले आभाषि Read More …

मायूसी को हँसी बनाएँ – Let’s Live Our Life Each Day With A Smile

खुशी की क्या परिभाषा .. और हर हमेशा घिरे महसूस करते जिससे यही है गम ? याद है .. कब पढ़ी थी पिछले दफा किताब की दस पंक्तियाँ सुकून के Read More …

प्यार के पौधे … Love Tree ~ Valentine Words

मैं अब नहीं देख पाता तेरी चहलकदमी, क्योँ नहीं चहचाहट भी सुनाई परती, आँगन मैं अब भी होती होगी आहटे तेरी ! सुबह पंछी आते होंगे तेरे खिड़कियों पर, वो Read More …