Poetry

थोड़ी फुरसत दे ए जिंदगी ..City Life

थोड़ी फुरसत दे ए जिंदगी .. कहीं तो जाके ढूंड लाऊ खुद को, खुद अपने से सिसकता वक्त की टिक टिक सोने नही देती, ये मुखोटे लगाये इंसानों के शोर अब जीने नही देती ! नही देखा पता इन अंधेरो के चीरते प्रकश स्तंभों को , पराये से आंखे दिखाते है ये हमारी आँखों में […]

Poetry

क्या है !

देखा हर नब्ज जिंदगी का .. पूछ बैठा इरादा क्या है ! जब समझ बैठा कोई परछाई .. तब देखा मेरा साया क्या है ! रह रह झलक जाता जब कोई .. देखे न दिखा नजारा क्या है ! खामोश दीखते हर राहों पर जब .. फिर पूछते तेरा वादा क्या है ! मुस्कुराहटो को […]

Random Thoughts

Sujit Random Thoughts

Sujit Random Thoughts Sujit :23-Dec-09 “शत्रु मेरा बन गया है छल रहित व्यवहार मेरा !” Sujit :1-jan-10 “सफ़र शुरू है , मायूसी अब तेरा काम नहीं, हम तो चलेगे ही भले न हो किसी का साथ कहीं!” Sujit :24-jan-10 Become a seeker,knock and the door will open.Never stop learning ! Sujit :14-Feb-10 Listening” संग प्यार […]